hindiallnews

lifestyle/myth news, lovelife news, tech news, lifestyle news, health news, all news, jokes, news, jobs news, health tips,

Wednesday, June 30, 2021

/ BTC क्या होता हैं?BTC का फुल फॉर्म क्या होता हैं? btc full form | btc full form in hindi

BTC क्या होता हैं?BTC का फुल फॉर्म क्या होता हैं? btc full form | btc full form in hindi

बीटीसी का फुल फॉर्म क्या होता हैं जानें?

btc full form
btc-full-form


btc full form क्या होता हैं?


दोस्तों को बहुत-बहुत स्वागत है आपका हमारी एक और नई शानदार इंटरेस्टिंग पोस्ट में दोस्तों यदि आप एक छात्र हैं तो आपने BTC कोर्स का नाम तो जरूर सुना होगा यह कोर्स टीचर बनने के लिए किया जाता है और इसके अतिरिक्त क्या आप जानते हैं बीटीसी क्या होता है।


और BTC का full form क्या होता है बीटीसी कोर्स करने के लिए क्या क्या क्वालिफिकेशन होनी चाहिए बीटीसी कोर्स की फीस कितनी होती है यदि आप नहीं जानते हैं तो घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है आज की इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बीटीसी के विषय के बारे में उपरोक्त सारी जानकारी देने वाले हैं।


इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपको BTC के विषय के बारे में सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी तो कृपया पोस्ट पर शुरू से लेकर अंत तक बने रहे तो चलिए बिना किसी देरी के आज की पोस्ट को शुरू करते हैं।



BTC क्या हैं | what is btc full form?


BTC यह शिक्षक या अध्यापक बनने के लिए किया जाने वाला कोर्स होता है बीटीसी का पूरा नाम | Basic Training Certificate | होता है बीटीसी का पूरा नाम हिंदी में | बुनियादी प्रशिक्षण प्रमाणपत्र | होता है हाल ही में सरकार मैं बीटीसी कोर्स का नाम बदलकर यह [ D.EL.ED ] रख दिया है।


बीटीसी सरकार के द्वारा अध्यापक बनने के लिए करवाया जाने वाला कोर्स होता है सरकार के द्वारा चलाए गए सभी प्राइमरी स्कूलों में जो अध्यापक बच्चों को पढ़ाते हैं उन अध्यापकों की भर्ती बीटीसी कोर्स करने के बाद ही करी जाती है।


बीटीसी कोर्स करने के लिए कम से कम 12वीं कक्षा में पास होना अति आवश्यक होता है और आप ग्रेजुएशन करने के बाद भी यह कोर्स कर सकते हैं और BTC या D.EL.ED कोर्स को करने के लिए छात्र को 2 साल का समय लगता है और वह सरकार के द्वारा BTC Course को पूरा करने की अवधि 2 साल निर्धारित होती है।


और बता दे की बीटीसी कोर्स को करने के लिए छात्र को बहुत ही कठिन परिश्रम करना होता है बीटीसी कोर्स मै सभी छात्रों को इस कोर्स में बच्चों को कैसे पढ़ाना है बच्चों से कैसे बात करनी है और इसके साथ में बच्चों में बुरी आदतों को अच्छी आदतों में कैसे बदलना है इत्यादि बच्चों को सही शिक्षा देना यह इस कोर्स में सिखाया जाता है।


और वह जो अभ्यार्थी BTC कोर्स को पास कर लेते है और उनको आगे जैसे कि प्रदेश मे चल रहे TET या CTET EXAM पास करना होता है और यह परीक्षा पास करने के बाद उनको मेरिट के अनुसार ही एक सरकारी अध्यापक या टीचर के लिए नियुक्त किया जाता है।



BTC का फुल फॉर्म क्या होता हैं | full form of btc?


BTC का फुल फॉर्म | Basic Training Certificate | होता है बीटीसी कोर्स सरकारी प्राइमरी टीचर या अध्यापक बनने के लिए किया जाने वाला एक कोर्स होता है और बीटीसी कोर्स की अवधि 2 वर्ष होती है अर्थात इस कोर्स को करने में 2 साल का समय लगता है।


यह कोर्स सरकार के द्वारा चलाए गए सरकारी प्राइमरी स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के लिए अध्यापकोंं की भर्ती बीटीसी कोर्स करने के बाद की जाती है बीटीसी कोर्स में छात्रों को बच्चों को कैसे पढ़ाना है बच्चों के साथ कैसे बात करनी है बच्चों को शिक्षा कैसे देनी है और इसके साथ बच्चों की बुरी आदतों को कैसे छुड़ाना है।


और उन्हें अच्छी आदतों को कैसे बनाना है यह सभी बीटीसी कोर्स में छात्रों को सिखाया जाता है यह कोर्स 12वीं कक्षा पास करने के बाद और ग्रेजुएशन करने के बाद किया जा सकता है।


दोस्तों अब हमने btc ka full form क्या होता है इसके बारे में अच्छे से जान और समझ लिया है चलिए अब आगे बढ़ते हैं और इसके अतिरिक्त है और ज्यादा जानकारी प्राप्त कर लेते हैं।

btc full form
btc-full-form


बीटीसी का फुल फॉर्म हिंदी में क्या होता हैं | full form of btc in hindi?


BTC का फुल फॉर्म हिंदी में | बुनियादी प्रशिक्षण प्रमाणपत्र | होता है हाल ही में BTC कोर्स का नाम [ D.EL.ED ] रख दिया गया है और बीटीसी कोर्स सरकारी शिक्षक अध्यापक बनने के लिए किया जाने वाला 2 वर्षीय कोर्स होता है।


बीटीसी कोर्स करने के बाद आप सरकारी प्राइमरी स्कूल में अध्यापक लग सकते हैं और जिन छात्रों का सरकारी अध्यापक बनने का सपना होता है।


बी - बुनियादी

टी - प्रशिक्षण

सी - प्रमाणपत्र


वह छात्र बीटीसी कोर्स को करके अपने अध्यापक बनने के सपने को साकार कर सकते हैं और BTC कोर्स यह शिक्षक या अध्यापक बनने से जुड़ा हुआ एक महत्वपूर्ण कोर्स होता है बता दे की यह ऐसे में जो भी व्यक्ति या स्टूडेंट शिक्षक बनना चाहता है और वह BTC कोर्स को कर अपने भविष्य को एक नई दिशा दे सकता है।


दोस्तों अभी हमने btc ka full form hindi mai क्या होता है इसको जान और समझ लिया है चलिए अब इसके अतिरिक्त और ज्यादा जानकारी प्राप्त करते हैं।



BTC का फुल फॉर्म इंग्लिश में क्या होता हैं | btc full form in english?


BTC का फुल फॉर्म इंग्लिश में | Basic Training Certificate | होता है BTC कोर्स प्राइमरी स्कूल में अध्यापक बनने के लिए किया जाने वाला कोर्स होता है बीटीसी कोर्स कार्य लेने के बाद प्राइमरी स्कूल में अध्यापक बना जा सकता है यह कोर्स 2 साल का होता है।


और बीटीसी कोर्स में छोटे बच्चों को कैसे पढ़ाया जाता है और उनकी बुरी आदतों को अच्छी आदतों में कैसे बदला जाता है बच्चों को सही तरीके से कैसे पढ़ाया जाता है।


B - BASIC

T - TRAINING

C - CERTIFICATE


इन सभी बातों का ज्ञान BTC कोर्स मैं छात्रों को दिया जाता है बीटीसी कोर्स छात्रों के प्राइमरी स्कूल में अध्यापक छोटे बच्चों को पढ़ाने के सपने को पूरा करने वाला कोर्स होता है BTC course को पूरा करने के बाद TET या CTET EXAM पास करना होता है।


इस एग्जाम को पास करने के बाद मेरिट लिस्ट के हिसाब से सरकारी अध्यापक की नियुक्ति की जाती है बीटीसी कोर्स अध्यापक बनने के लिए एक बेहतरीन कोर्स होता है।


दोस्तों अब हमने इंग्लिश भाषा में btc ka full form kya hota hai इसको भी जान लिया है तो चलिए अब आगे बढ़ते हैं और बीटीसी कोर्स के अतिरिक्त और जानकारी प्राप्त कर लेते हैं।



BTC कोर्स करने के लिए क्या-क्या क्वालिफिकेशन है या एलिजिबिलिटी होनी चाहिए?


BTC कोर्स टीचर या अध्यापक बनने के लिए किया जाने वाला एक बेहतरीन कोर्स होता है जिसकी अवधि 2 वर्ष होती है और यह सेमेस्टर सिस्टम पर आधारित होता है इसमें सेमेस्टर होते हैं यदि आप बीटीसी का कोर्स करना चाहते हैं तो आपके पास निम्नलिखित नीचे दी गई क्वालिफिकेशन होनी चाहिए जैसे - 



BTC COURSE ELIGIBILITY & QUALIFICATION :


  1. BTC कोर्स करने के लिए सबसे पहले आप भारत के नागरिक होने चाहिए।
  2. और BTC कोर्स करने के लिए छात्र की आयु अर्थात उम्र कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए।
  3. यदि आपकी आयु 21 वर्ष से कम है तो आप बीटीसी कोर्स के लिए एलिजिबल नहीं है अर्थात आप बीटीसी कोर्स नहीं कर सकते हैं।
  4. BTC कोर्स करने के लिए आप कम से कम 12वीं कक्षा में पास होने चाहिए या आप ग्रेजुएशन करने के बाद भी यह कोर्स कर सकते हैं।
  5. और आपके 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंक होने अति आवश्यक है तभी आप बीटीसी कोर्स मैं प्रवेश करने के लिए एलिजिबल हो सकते हैं।


यदि आप ऊपर दी गई सभी रिक्वायरमेंट को पूरा करते हैं तो और आप बीटीसी कोर्स के लिए पूरी तरह से एलिजिबल है अर्थात आप BTC कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं और बीटीसी का कोर्स कर सकते हैं।



BTC कोर्स की कितनी फीस होती हैं?


बीटीसी कोर्स की सरकारी और प्राइवेट कॉलेज वालों की फीस अलग-अलग होती है अर्थात सरकारी कॉलेज कम फीस में BTC का कोर्स करवाते हैं और जबकि प्राइवेट कॉलेज बीटीसी कोर्स के लिए ज्यादा फीस का चार्ज करते हैं सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में फीस कुछ इस प्रकार होती है जैसे -



BTC FEES :



सरकारी कॉलेज


यदि आप BTC का कोर्स किसी भी सरकारी कॉलेज में करते हैं तो किसी सरकारी कॉलेज में बीटीसी कोर्स की फीस काफी कम होती है आपको बीटीसी कोर्स के 1 सेमेस्टर में आप को ₹1800 की फीस देनी पड़ सकती है और प्रत्येक 2 वर्ष में आप के ₹7200 में कर सकते हैं और बहुत कम फीस होती है।



प्राइवेट कॉलेज


इसके साथ हम आपको बता दें कि यह BTC कोर्स की कॉलेजों की सीटों को भारत सरकार ने दो श्रेणियों में बांट कर रखा हुआ हैं और बीबी जिसमें बीटीसी कोर्स फ्री सीट की फीस ₹22,500 है और किसी प्राइवेट कॉलेज मै पेड सीट की फीस ₹45000 होती है और बता दे की हर कॉलेज में 50-50 फीसदी फ्री सीट और पेड सीट मौजूद हैं।

btc full form
btc-full-form


BTC में कौन-कौन से विषय होते हैं?


BTC यह है प्राइमरी स्कूल में अध्यापक बनने के लिए किया जाने वाला कोर्स होता है जिसकी अवधि 2 वर्ष होती है इस कोर्स के विषय या सब्जेक्ट यह राज्य शैक्षिक और अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (SCERT) ने यह 2 वर्षीय  बीटीसी कोर्स में बदलाव किया है।


और इसके साथ वह नए कोर्स को और भी रुचिकर बनाने के लिए इस में विषय जैसे कला, संगीत, शारीरिक शिक्षा, स्वास्थ्य और कंप्यूटर को शामिल किया गया है BTC पाठ्यक्रम के विषय निम्नलिखित में नीचे दिए गए हैं जैसे - 



BTC/D.EL.ED COURSE 1ST AND 2ND YEAR SYLLABUS :


  1. हिंदी शिक्षण (Hindi teaching)
  2. उर्दू शिक्षण (Urdu teaching)
  3. गणित शिक्षण (math teaching)
  4. विज्ञान शिक्षण (science education)
  5. संस्कृत शिक्षण (Sanskrit Teaching)
  6. बाल विकास एवं सीखने की प्रक्रिया (child development process)
  7. शिक्षा अधिगम के सिद्धान्त (qualities of learning)
  8. सामाजिक और अध्ययन शिक्षण (social studies teaching)



BTC कोर्स में छात्रों को क्या पढ़ाया जाता है?


BTC कोर्स कर रहे सभी छात्रों को प्राइमरी स्कूल के बच्चों को कैसे पढ़ाया जाता है और छोटे बच्चों को कैसे सही जानकारी दें जिससे उनको आसानी से समझा सके और बच्चों की बुरी आदतों को अच्छी आदतों में कैसे बदला जाता है।


यह सभी बीटीसी में कोर्स कर रहे छात्रों को सिलेबस के माध्यम से पढ़ाया जाता है और उन्हें ट्रेनिंग भी दी जाती है बच्चों को कैसे शिक्षा देनी है इन सभी के लिए छात्रों को ट्रेन किया जाता है यह सब ट्रेनिंग के माध्यम से होता है BTC कोर्स मैं 2 सालों में छात्रों को एक अच्छा अध्यापक बनाया जाता है।



BTC कोर्स करके अध्यापक कैसे बने?


दोस्तों यदि आप BTC का 2 साल का कोर्स करके बीटीसी का प्रमाण पत्र हासिल कर लेंगे तो बीटीसी का प्रमाण पत्र लेने के बाद एक सरकारी प्राइमरी स्कूल में अध्यापक का या शिक्षक बनने के लिए सबसे पहले आपको TET (Teacher Eligibility Test) या CTET (Central Teacher Eligibility Test) के एग्जाम परीक्षा में उत्तीर्ण होना होगा।


और यदि आप इस परीक्षा को अच्छे अंकों के साथ पास करते है और उसके बाद मेरिट के हिसाब से सरकारी अध्यापक नियुक्त किया जाएगा और फिर आप एक सरकारी प्राथमिक अध्यापक का बन सकते हैं।



BTC कोर्स करने के बाद रोजगार के क्षेत्र कौन-कौन से होते हैं?


यदि आप BTC का कोर्स जो अध्यापक बनने के लिए किया जाता है उसे पूरा कर लेते हैं तो आप पास नीचे दिए गए निम्नलिखित रोजगार के क्षेत्र विकल्प आपके पास मौजूद होंगे और जो कुछ इस प्रकार है जैसे - 



BTC कोर्स के बाद रोजगार के क्षेत्र :


  1. प्राथमिक शिक्षक (Primary Teacher)
  2. प्राथमिक शिक्षक (Elementary Teacher)
  3. उच्चतर माध्यमिक शिक्षक (Higher Secondary Teacher)
  4. विशेष आभ्यासिक गुरु (Special Education Teacher)
  5. रोजगार भूमिका नर्सरी शिक्षक (Employment Roles Nursery Teacher)


यदि आप BTC का कोर्स कर लेते हैं तो आपके पास ऊपर दिए गए सभी रोजगार के क्षेत्र आपके लिए खुले रहेंगे आप इनमें से किसी भी क्षेत्र में नौकरी के लिए बहुत आसानी से है अप्लाई कर सकते हैं और हर महीने अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

btc full form
btc-full-form


BTC पाठ्यक्रम का क्या महत्व है?


BTC पाठ्यक्रम यह कोर्स का बहुत महत्व होता है क्योंकि बीटीसी पाठ्यक्रम या कोर्स करने के बाद यदि आप TET परीक्षा पास कर लेते हैं तो आप को टीईटी करके तुरंत नौकरी मिलती है और बता दे की सरकारी कॉलेज के संचालकों का यह कहना है।


BTC कोर्स और इसके साथ (TET) शिक्षक पात्रता परीक्षा को पास करने के बाद आप को आसानी से BASIC शिक्षा परिषद के सभी स्कूलों में जॉब या नौकरी मिल जाती है और वह इसलिए BTC कोर्स में दाखिला की मारामारी होती है और प्राइमरी अध्यापकों को हर महीने अच्छी आमदनी प्राप्त होती है।


दोस्तों मुझे उम्मीद है कि BTC का full form क्या होता है और इसके अतिरिक्त BTC के विषय के बारे में उपरोक्त सारी जानकारी आपको अच्छे से प्राप्त हो गई होगी और जानकारी से सीखने को जरूर मिला होगा यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी है और इस जानकारी से आपको सीखने को मिला है। 


तो कृपया आप हमें कमेंट के माध्यम से कमेंट करके जरूर बताएं क्योंकि आपका एक एक कमेंट हमारे लिए बहुमूल्य है कृपया आप हमें कमेंट जरूर करें और पोस्ट पर शुरू से लेकर अंत तक लगातार बिना रुके पढ़ते रहने के लिए आपका दिल से धन्यवाद।



दोस्तों यह btc full form पोस्ट अगर आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी है तो आप कॉमेंट करके हमें जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर जरूर करें और आप हमें फ़ॉलो करना बिलकुल ना भूलें आप हमें फ़ॉलो जरूर करें।Thanks!

No comments:

Post a Comment