hindiallnews

lifestyle/myth news, lovelife news, tech news, lifestyle news, health news, all news, jokes, news, jobs news, health tips,

Monday, May 3, 2021

/ MICR CODE क्या है?MICR का फुल फॉर्म क्या होता हैं? | micr full form | MICR Code full form in Hindi

MICR CODE क्या है?MICR का फुल फॉर्म क्या होता हैं? | micr full form | MICR Code full form in Hindi

MICR का फुल फॉर्म क्या होता हैं जानें?

micr full form
micr-full-form


micr full form क्या होता हैं?


दोस्तों बहुत-बहुत स्वागत है आपका हमारी एक और नई शानदार पोस्ट में क्या आप जानते हैं micr full form क्या होता है और इसके अतिरिक्त ए एम आई सी आर कोड क्या होता है यदि आप नहीं जानते तो घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है आज हम आपको एमआईसीआर की फुल फॉर्म क्या होती है।


और इसके अतिरिक्त MICR का फुल फॉर्म हिंदी और इंग्लिश भाषा में क्या होता है यह सब हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताने वाले हैं आज की इस पोस्ट से आपको सीखने को जरूर मिलेगा।


क्योंकि हम आपको MICR के विषय में संपूर्ण और स्पष्ट पूरी जानकारी देंगे कृपया पोस्ट पर अंत तक बने रहें तो चलिए बिना किसी देरी के आज की पोस्ट को शुरू करते हैं।



MICR क्या हैं?


MICR का पूरा नाम | Magnetic Ink Character Recognition | होता है और इसको शॉट रूप में एमआईसीआर कहा जाता है यह एमआईसीआर कोड 9-digit का होता है और यह particular bank ब्रांच को पहचानने में मदद करता है और यह Electronic Clearing System का हिस्सा होता है।


और बता दें कि एमआईसीआर कोड आपको cheque leaf पर आसानी से मिल जाएगा MICR code को bank passbook मैं प्रिंट किया गया होता है एमआईसीआर कोड 9 डिजिट का होता है और इसको बैंक द्वारा जारी किया जाता है दोस्तों यदि आपने किसी भी बैंक चेक को ध्यान से देखा होगा।


और आपको उससे चेक किए बिल्कुल नीचे magnetic inks bar codes printed नजर जरूर आया होगा उसी को एमआईसीआर कोड कहां जाता है साधारण शब्दों में कहें तो MICR का मतलब मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन है, यह एक कैरेक्टर रिकग्निशन टेक्नोलॉजी होती है।


और जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से बैंकिंग इंडस्ट्री द्वारा चेक की प्रोसेसिंग को आसान बनाने के लिए किया जाता है और एमआईसीआर को security bar code की तरह है किसी भी तरह की ट्रांजैक्शन को प्रोटेक्ट करने के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है।


और यह ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करने का भी हिस्सा होता है क्योंकि बाकी सभी बैंक की ब्रांच को unique MICR code दिया जाता है और यह यूनिक कोड आरबीआई को बैंक ब्रांच पहचानने में मदद करता है इसके कारण ट्रांजैक्शन में तेजी आती है।



MICR की शुरुआत कब हुई थी?


MICR बैंक द्वारा दिया गया एक बहुत महत्वपूर्ण 9-digit का कोड होता है और भारत में एमआईसीआर code Technology की शुरुआत सन 1980 में हुई थी और इसी साल एमआईसीआर CODE टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है।



MICR का फुल फॉर्म कंप्यूटर में क्या होता है | micr full form computer?


MICR का COMPUTER में फुल फॉर्म | Magnetic ink character recognition | होता है और साथ ही बता दे की स्टैनफोर्ड रिसर्च इंस्टीट्यूट ने भी ERMA के हिस्से के रूप में MICR का आविष्कार किया था और MICR ने कंप्यूटरों को चेक के लेन-देन की अनुमति देने वाले चेक के तल पर विशेष संख्या में पढ़ने की अनुमति दी इस कोड के माध्यम से बहुत आसानी हो गई इसलिए यह कोड बहुत महत्वपूर्ण है।



MICR का फुल फॉर्म क्या होता हैं | full form of micr |


MICR code का full form | Magnetic Ink Character Recognition | होता है और (MICR) code का means यह एक बेहतरीन तकनीक है और जिसका उपयोग मुख्य रूप से चेक की पहचान और प्रक्रिया के लिए किया जाता है और चेक पर एमआईसीआर वर्णों की स्ट्रिंग होती है।


जो चेक के नीचे बाईं ओर दिखाई देता है और इसमें बैंक राउटिंग नंबर, खाता संख्या और चेक नंबर सहित संख्याओं के तीन समूह होते हैं यह एमआईसीआर कोड नंबर 9-digit का होता है और यह particular bank ब्रांच को पहचानने में मदद करता है यह कोड बैंक द्वारा जारी किया जाता है।


और यह Electronic Clearing System कहां हिस्सा होता है यह MICR कोड बैंक ब्रांच को दिया जाता है और इसकी सहायता से आरबीआई को बैंक ब्रांच को पहचानने में सहायता होती है।


दोस्तों अब हमने micr ka full form क्या होता है इसको अच्छे से जाना और समझ लिया है तो चलिए अब हम एमआईसीआर के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर लेते हैं।

micr full form
micr-full-form


MICR का फुल फॉर्म हिंदी में | MICR Code full form in Hindi |


MICR का फुल फॉर्म हिंदी में | चुंबकीय स्याही चरित्र मान्यता | होता है और MICR संख्या आपके चेक के नीचे सूचीबद्ध खाता संख्या होती है और इसका उपयोग आपके खातों से प्रत्यक्ष जमा और स्वचालित निकासी की स्थापना के लिए किया जाता है और आपका 9 अंकों का MICR / खाता नंबर आपके चेक के बिल्कुल नीचे पाया जा सकता है।


 एम - चुंबकीय

 आई - स्याही

 सी - चरित्र

 आर - मान्यता


और यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप सत्यापन के लिए अपने वित्तीय संस्थान से संपर्क करना चाहते हैं यह MICR कोड एक यूनिक कोड होता है और यह बैंक द्वारा जारी किया जाता है।


और यह कोड चेक के नीचे लिखा होता है और प्रत्येक बैंक ब्रांच को एमआईसीआर का unique code दिया जाता है जिसकी सहायता से आरबीआई बैंक ब्रांच को पहचान लेता है।


दोस्तों अब हमने हिंदी भाषा में micr ka full form kya hai इसको अच्छे से जान और समझ लिया है तो चलिए अब हम इंग्लिश भाषा में MICR का फुल फॉर्म क्या होता है इसको अच्छे से जान लेते हैं।



MICR का फुल फॉर्म इंग्लिश में | MICR Code full form in English |


MICR का फुल फॉर्म इंग्लिश में | Magnetic Ink Character Recognition | होता है यह MICR code बैंक द्वारा जारी किया जाता है और यह कोड आपको आपके बैंक खाते की चेक बुक के बिल्कुल नीचे 9-digit में यह कोड आपको दिखाई देगा यह कोड बहुत महत्वपूर्ण कोड होता हैं।


 M - MAGNETIC

 I - INK

 C - CHARACTER

 R - RECOGNITION


और इसका उपयोग आपके चेक की पहचान और प्रक्रिया के लिए किया जाता है और MICR code आरबीआई को particular bank branch पहचानने में मदद करता है यह MICR कोड आपको अपनी चेक पासबुक पर बिल्कुल नीचे 9-digit मै लिखा कोड नंबर आसानी से मिल जाएगा यह किसी भी तरह की पैसों की ट्रांजैक्शन को प्रोटेक्ट करता है।


अब हमने आपको MICR code के Full form बारे में बता दिया है तो चलिए अब हम MICR के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर लेते हैं तो चलिए के बारे में आगे जान लेते हैं।



MICR CODE मैं क्या होता है?


MICR कोड यूनिक कोड होता है और यह कोड बैंक द्वारा जारी किया जाता है और यह आपको अपनी चेक पासबुक के बिल्कुल नीचे 9-digit में प्रिंट हुआ दिखाई देगा और इस कोड का इस्तेमाल check पहचानने की प्रक्रिया के लिए किया जाता है तो अब हम जानते हैं कि इसके 9-digit कोड क्या बताते हैं।



पहले 3-digit या अंक शहर का नाम बताते हैं?


MICR कोड के पहले 3-digit pin code के समान होते हैं हम आपको उदाहरण से समझाते हैं जैसे नई दिल्ली की पिन कोड 110 है इसीलिए नई दिल्ली में स्थित सभी बैंक ब्रांच की MICR CODE 110 से ही शुरू होगी अर्थात एमआईसीआर कोड के पहले 3digit इलाके के बारे में बताते हैं।



दूसरे 4/6-digit बैंक के विषय के बारे जानकारी देते हैं?


तो बता दें कि सभी बैंक को 3 डिजिट का एमआईसीआर कोड दिया जाता है और एमआईसीआर कोड में 4/6 डिजिट बैंक के 3-digit होते हैं MICR के इन 3-digit से बैंक के बारे में जानकारी मिलती है।

micr full form
micr-full-form


तीसरे 7/9-digit बैंक की ब्रांच कोड कैसे के बारे में जानकारी देता है?


MICR कोड के लास्ट के 3 डिजिट बैंक की ब्रांच पहचानने में मदद करते हैं यह serial wise होते हैं अर्थात मान लीजिए दिल्ली में एसबीआई की एक ब्रांच है और उस ब्रांच का 3 डिजिट का ब्रांच कोड 002 है और अगर दिल्ली में एसबीआई की एक और ब्रांच खुलती है।


तब उस ब्रांच का 3 डिजिट ब्रांच कोड 003 होगा यह सीरियल वाइज चलते हैं और इससे MICR CODE के इन 3-digit से RBI को बैंक ब्रांच पहचानने में मदद मिलती है 3-digit की सहायता से RBI आसानी से पहचान लेता है कि यह कौन से बैंक की ब्रांच है।


दोस्तों यह हैं MICR CODE के 9-digit का रहस्य यह कोर्ट बहुत मतलब होता है इसकी सहायता से आसानी से बैंक और उसकी ब्रांच के बारे में पहचाना जा सकता है।



MICR कोड कहां मिल सकता है | Where can I find MICR code?


यदि आप MICR कोड अपना देखना चाहते हैं तो आप अपने खाते की चेक बुक पासबुक से आप आसानी से अपने चेक लीफ के नीचे MICR नंबर पा सकते हैं और यह चेक नंबर से सटे (दाईं ओर) मुद्रित आप को दिखाई देगा वही आपका एमआईसीआर कोड नंबर होगा।



क्या MICR कोड सभी ग्राहकों के लिए समान है | Is MICR code same for all customers?


यदि आपके मन में यह सवाल है तो बता दे की प्रत्येक बैंक शाखा को एक अद्वितीय MICR CODE दिया जाता है और इससे RBI को बैंक शाखा की पहचान करने मै और समाशोधन प्रक्रिया को गति देने में मदद मिलती है और इसमें क्या शामिल है? MICR कोड में 9-digit होते हैं।


और जिसमें प्रत्येक तीन अंकों के साथ लेनदेन और बैंक के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी होती है इस कोड से बैंक के विषय के बारे में बैंक कहां पर स्थित है और बैंक की ब्रांच कौन सी है इसकी जानकारी 9-digit Code से प्राप्त होती है।



MICR कोड किसके लिए उपयोग किया जाता है | What is MICR code used for?


जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया है की MICR कोड MICR (मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी) का उपयोग कर चेक पर छपा हुआ 9-digit कोड है और यह चेक की पहचान में सक्षम बनाता है और जो तेजी से प्रसंस्करण का मतलब होता है और MICR कोड एक 9-अंकीय कोड होता है।


जो इलेक्ट्रॉनिक क्लीयरिंग सिस्टम (ECS) में भाग लेने वाले बैंक और शाखा की विशिष्ट पहचान करता है इसके माध्यम से बैंक के बारे में जानकारी और बैंक की ब्रांच कौन सी है ब्रांच कौन से इलाके में है आरबीआई को इस विषय में सारी जानकारी MICR CODE के माध्यम से प्राप्त होती है।



क्या MICR कोड किसी को देना सुरक्षित है | Is it safe to give MICR code?


यदि आप के मन मै यह सवाल है तो हम आप को बता दे इसका उत्तर यह है कि NO अर्थात आपको किसी को भी अपना एमआईसीआर कोड नहीं देना चाहिए क्योंकि इन सूचनाओं के साथ आपके खाते को मिस या हैक कर सकता है इसलिए चिल-पिल ले लें और इन विवरणों के साथ हैकिंग को शूट किया जा सकता है।


और पासबुक / चेकबुक में हमारा बैंक खाता नंबर, नाम, IFSC कोड और पैन नंबर शामिल है यदि इसे संवेदनशील माना जाता है इसीलिए आपको किसी को भी अपना MICR कोड नहीं देना या बताना चाहिए क्योंकि यह बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं होगा इसलिए अपना एमआईसीआर कोड नंबर किसी को भी नाम बताएं और सावधान रहें सुरक्षित रहें।

micr full form
micr-full-form


SBI में MICR नंबर क्या है | What is MICR Code SBI?


जैसा कि हमने पहले जाना है की MICR (मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन) कोड में केवल संख्यात्मक मान होते हैं और यह 9 अंकों का कोड होता है और जो आमतौर पर चेक पत्तियों पर मुद्रित होता है और MICR कोड आसानी से प्रसंस्करण जांच के लिए उपयोग किया जाता है।


एमआईसीआर कोड के लास्ट के 3 डिजिट बैंक ब्रांच को दर्शाते हैं और यह सीरियल वाइज होते हैं भारतीय स्टेट बैंक की कई समर्थित शाखाएँ हैं अर्थात ब्रांचएस हैं और इनमें ब्रांच को सीरियल नंबर से पहचाना जाता है अर्थात अगर नई दिल्ली में एक एसबीआई की ब्रांच है तो उसको 001 कोड होगा।


और अगर SBI की नई दिल्ली में एक और ब्रांच है तो उसको 002 कोड दिया जाएगा और इस तरह से ब्रांच को सीरियल वाइज कोड दिया जाता है जिसकी वजह से बैंक के ब्रांच की पहचान की जाती है।



MICR की विशेषताएं क्या हैं | What are the features of MICR?


MICR एक बहुत महत्वपूर्ण कोड होता है और यह कोड बैंक के लिए भी बहुत जरूरी होता है चलिए अब हम MICR कोड की क्या विशेषताएं हैं जान लेते हैं।



FEATURES OF MICR :


पेपर स्टैंडर्ड: तो बता दे की जिस पेपर पर MICR कोड चेक प्रिंट होते हैं वह सीबीएसआई (क्लियरिंग बैंक स्पेसिफिकेशन 1 या क्लियरिंग बैंक स्टैंडर्ड 1) होना चाहिए।


सुरक्षा मानक: और यह सुरक्षा उपायों में वृद्धि के रूप में बहुत MICR चेक में कुछ विशेष सुविधाएँ जोड़ी जाती हैं यह विशेष सुविधाएं बहुत लाभकारी सिद्ध होती हैं।


वॉटरमार्क: यह बैंक का वॉटरमार्क MICR चेक में देखा जाता है इससे बैंक के बारे में बैंक ब्रांच के बारे में जानकारी प्राप्त होती है।



क्या MICR और CIF संख्या समान है | Is MICR and CIF number same?


तो बता दे की यह खाता संख्या और IFSC कोड MICR कोड और कई अन्य विवरणों के साथ, CIF संख्या भी एक महत्वपूर्ण शब्द है जिसे देखा जा सकता है और CIF का अर्थ ग्राहक सूचना फ़ाइल है अर्थात MICR कोड में बैंक और ब्रांच चेक की विशेष जानकारी होती है।


और वही CIF ग्राहक अर्थात बैंक ग्राहक की सारी जानकारी उपलब्ध होती है पर ऐसा माना जा सकता है कि यह दोनों समान है परंतु इन दोनों के कार्य अलग-अलग होते हैं।



MICR और इसके उपयोग क्या हैं | What is MICR and its uses?


जैसा कि हमने पहले जाना है की यह MICR कोड के रूप में संक्षेप में जाना जाने वाला मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकग्निशन कोड होता है और यह एक कैरेक्टर रिकग्निशन टेक्नोलॉजी होती है और जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से बैंकिंग उद्योग द्वारा चेक और अन्य दस्तावेजों के प्रसंस्करण।


और निकासी को कारगर बनाने के लिए किया जाता है और बारकोड और इसी तरह की तकनीकों के विपरीत है MICR वर्णों को मनुष्यों द्वारा आसानी से पढ़ा जा सकता है यह एक बहुत महत्वपूर्ण कोड होता है जिसका इस्तेमाल बैंकिंग उद्योग इंफॉर्मेशन के लिए प्रयोग किया जाता है।



MICR CODE काम कैसे करता है | How does a MICR work?


एमआईसीआर को | मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन | (MICR) कहा जाता हैं और यह उन 9-digit डिजिटल नंबरों का एक समूह है जो बैंक रूटिंग नंबर और अकाउंट नंबर और चेक नंबर का प्रतिनिधित्व करते हैं।


और यह चुंबकीय स्याही वर्ण पहचान डिजिटल नंबर के एक सेट को खींचने के लिए एक स्पष्ट बैंड में निहित चुंबकीय स्याही या टोनर का उपयोग करती है जिसकी सहायता से बैंक चेक बैंक ब्रांच की पहचान होती है।



MICR ENCODED चेक सीरियल नंबर क्या होता है | What is MICR encoded Cheque serial number?


जैसा की हमने जाना है की हर चेक के नीचे काले वर्णों को MICR एन्कोडिंग लाइन के रूप में जाना जाता है और MICR का अर्थ "मैग्नेटिक इमेज कैरेक्टर रिकॉग्निशन" होता है और MICR एन्कोडिंग में चेक नंबर और आपकी शाखा का ट्रांज़िट नंबर, संस्था कोड और आपका व्यक्तिगत खाता नंबर सहित बहुत सी बहुमूल्य जानकारी होती है बहुत महत्वपूर्ण जानकारी होती है।



MICR के क्या लाभ हैं | What are the advantages of MICR?


MICR के बहुत सारे लाभ हैं यह एक बहुत महत्वपूर्ण कोड होता है जिसकी सहायता से बैंक इनफार्मेशन को आसानी से पढ़ा जा सकता है तो चलिए अब एमआईसीआर के फायदे क्या है यह जान लेते हैं।



MICR के ADVANTAGES या लाभ :


➨ तो बता दे की किसी से निपटने के बावजूद यह उच्च सटीकता के साथ MICR जानकारी पढ़ सकता है और यह Information MICR सूचना का प्रसंस्करण तेज है। 


➨ इसकी एक और खासियत है की यह OCR तकनीक की तुलना में अधिक सुरक्षा प्रदान करता है और क्योंकि मुद्रित वर्णों में परिवर्तन नहीं किया जा सकता है और Reduced कोई मैनुअल इनपुट नहीं है और इसलिए त्रुटियां कम हो जाती हैं।


MICR CODE इसकी सहायता से RBI बैंक की ब्रांच कहां है और बैंक के बारे में विशेष सारी जानकारी आसानी से जान लेता है।


➨ MICR कोड की सहायता से लेन-देन चेक प्रक्रिया में आसानी होती है इसकी सहायता से बैंक कौन सा है किस ब्रांच का है और कहां स्थित है इसको आसानी से पहचाना जा सकता है।



MICR के नुकसान क्या-क्या हैं | What are the disadvantages of MICR?


जैसा कि हमने MICR के लाभ के बारे में जाना है तो अब हम एमआईसीआर के क्या क्या नुकसान है इसके बारे में आपको बताते हैं वह सभी नुकसान है नीचे दिए गए हैं -



MICR के DISADVANTAGES या नुकसान :


➨ बता दे की MICR यह केवल 10 अंकों और 4 विशेष वर्णों को पहचान सकता है यह इसका नुकसान है।


➨ और यह InAlphanumeric characters का उपयोग MICR में नहीं किया जाता है क्युकी इसके केवल कुछ अक्षर ही पढ़े जा सकते हैं इसलिए यह भी इसका एक नुकसान है।


➨ यह डेटा प्रविष्टि की अधिक महंगी विधि है जिसके कारण यह इसका नुकसान है।


micr full form
micr-full-form


क्या MICR नंबर ROUTING NUMBER के समान है | MICR number same as routing number?


तो हम आपको बता दें कि यह MICR लाइन में पहले नंबर को ही रूटिंग नंबर कहा जाता है और यह 9 अंकों की संख्या उस बैंक की पहचान करती है और जो चेक से जुड़ा हुआ होता है और प्रत्येक चेक जो एक ही बैंक में एक ही राज्य में मुद्रित होता है और लाइन में एक ही routing number होगा और MICR लाइन में दूसरी संख्या खाता संख्या होती है MICR number routing number के समान होता है।



SBI में MICR कोड कहां मिल सकता है | Where can I find MICR code in SBI?


यदि आप SBI में MICR कोड ढूंढ रहे हैं तो आपको बता दें कि यदि कोई व्यक्ति भारतीय स्टेट बैंक के IFSC और MICR कोड की तलाश में है और वह बैंक द्वारा प्रदान की गई चेकबुक पर मुद्रित कर सकता है और यह एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर भी पाया जा सकता है।


आप एसबीआई बैंक की वेबसाइट पर जाकर अपना एमआईसीआर कोड आसानी से जा सकते हैं या आप को अपने बैंक अकाउंट की चेक बुक पर सबसे नीचे लिखा 9 डिजिट वाला नंबर दिखाई देगा वही नंबर आपका एमआईसीआर कोड होगा।


अगर आपको अपने चेक बुक पर भी नहीं मिलता है तो आप अपने एसबीआई बैंक शाखा से संपर्क कर सकते हैं अर्थात आप एसबीआई बैंक शाखा में जाकर अपना MICR कोड प्राप्त कर सकते हैं।


दोस्तों मुझे उम्मीद है कि MICR का full form क्या होता है और MICR इसके अतिरिक्त आपको सारी जानकारी अच्छे से प्राप्त हो गई होगी और आपको इस जानकारी से नया जरूर सीखने को मिला होगा यदि आपको हमारे द्वारा दी की जानकारी अच्छी लगी है।


और इस जानकारी से आपको कुछ नया सीखने को मिला है तो कृपया आप हमें कमेंट के माध्यम से कमेंट करके जरूर बताएं क्योंकि आपका एक एक कमेंट हमारे लिए बहुमूल्य हैं तो कृपया आप हमें कमेंट जरूर करें और पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पढ़ते रहने के लिए आपका दिल से धन्यवाद।



दोस्तों यह micr full form पोस्ट अगर आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी है तो आप कॉमेंट करके हमें जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर जरूर करें और आप हमें फ़ॉलो करना बिलकुल ना भूलें आप हमें फ़ॉलो जरूर करें।Thanks!

No comments:

Post a Comment